7 chakra series

चक्र क्या है , आपको पता है , उसके लाभ क्या है तो .

the.sanskrit

शरीर के चक्र
शरीर में मूल रूप से 7 चक्र होते हैं. इन्हें सृष्टि की समस्त शक्तियों का केंद्र माना जाता है. आइए जानते हैं इन चक्रों के बारे में.

सहस्त्रार चक्र

– मष्तिष्क के सबसे उपरी हिस्से पर जो चक्र स्थित होता है , उसे सहस्त्रार कहा जाता है.

– यह सहस्त्र पंखुड़ियों वाला है , और बिलकुल उजले सफ़ेद रंग का है.

– इस चक्र का न तो कोई धयान मंत्र है और न ही कोई बीज मंत्र , इस चक्र पर केवल गुरु का ध्यान किया जाता है.

– कुण्डलिनी जब इस चक्र पर पहुँचती है तब जाकर वह साधना की पूर्णता पाती है और मुक्ति की अवस्था में आ जाती है.

– इसी स्थान को तंत्र में काशी कहा जाता है

– इस स्थान पर सदगुरु का ध्यान या कीर्तन करने से व्यक्ति के मुक्ति मोक्ष का मार्ग सहज हो जाता है.

Body chakra
There are basically 7 chakras in the body. They are considered to be the center of all the powers of the universe. Let’s know about these cycles.

Sahastrar Chakra

– The chakra which is located on the topmost part of the brain is called Sahastrar.

– It is millennial petal, and is very bright white color.

– There is neither any meditation mantra nor any seed mantra of this cycle, only Guru is meditated on this cycle.

– When the Kundalini reaches this cycle, then she gets the fullness of spiritual practice and comes to a state of liberation.

– This place is called Kashi in Tantra.

– By meditating or doing kirtan of Sadguru at this place, the path of liberation salvation of the person gets smoothed.

#colture #sanskrit #imsanskrit

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s